Scheme of Administration Notice for Inviting Suggestion

हमारी वेब साइट पर आपका स्वागत है।

अनन्य भक्ति, सेवा, कर्मठता और मित्रता के अनंत प्रतीक श्री हनुमान जी की जय हो।

परमेश्वर की भक्ति के सबसे महान और लोकप्रिय देवताओं में श्री हनुमान जी का नाम सर्वोपरि है। महाकाव्य श्री राम चरितमानस और रामायण में श्री हनुमान जी सबसे महत्त्वपूर्ण हैं। देवताओं में सबसे बलवान और बुद्धिमान, श्री हनुमान जी भगवन श्री राम के अनन्य भक्त, सखा और सेवक हैं।

 

श्री हनुमान जी को अनेक नामों से जाना जाता है। इनमे प्रमुख हैं नाम

बजरंगबली, क्योंकि इनका शरीर एक वज्र की तरह था।
पवन-पुत्र, क्योंकि उन्हें पालने में वायु अथवा पवन (हवा के देवता) ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।
मारुत नंदन अर्थात मरुत (संस्कृत में मरुत् का अर्थ हवा है) का नंदन अर्थात बेटा ।
महावीर, क्योंकि श्री हनुमान जी अतुलित बलशाली हैं।

और पढ़ें...